IAS Success Story: सेल्फ स्टडी और रिवीजन की बदौलत सर्जना ने पास की यूपीएससी परीक्षा, ऐसी रही उनकी स्ट्रेटेजी 

Success Story Of IAS Topper Sarjana Yadav: यूपीएससी की तैयारी करने वाले हर कैंडिडेट का अलग नजरिया होता है. कुछ लोग कोचिंग को बेहद जरूरी मानते हैं तो कुछ लोग सेल्फ स्टडी की बदौलत यहां सफलता प्राप्त करके दिखाते हैं. आज आपको यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2019 में सफलता प्राप्त करने वाली सर्जना यादव के सफर के बारे में बताएंगे. उन्होंने सेल्फ स्टडी और रिवीजन को सबसे जरूरी माना और इसी की बदौलत आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा कर लिया. 

तीसरे प्रयास में मिली सफलता
सर्जना को यूपीएससी में तीसरे प्रयास में सफलता मिली. इसके पीछे अच्छी तरह तैयारी ना होना सबसे बड़ी वजह थी. वे साल 2018 तक नौकरी कर रही थीं और नौकरी के साथ तैयारी नहीं कर पा रही थीं. आखिरकार उन्होंने नौकरी छोड़ दी और पूरी तरह डेडीकेट होकर यूपीएससी की तैयारी की. इस बार किस्मत ने उनका साथ दिया और उन्होंने यूपीएससी में ऑल इंडिया रैंक 126 प्राप्त की. 

घर पर रहकर की तैयारी
सर्जना यादव उन कैंडिडेट्स में शुमार हैं, जिन्होंने घर पर रहकर यूपीएससी की तैयारी की. सेल्फी स्टडी और रिवीजन को वह सबसे अहम मानती हैं. उनके मुताबिक आप अपनी क्षमता के अनुसार पढ़ाई के घंटे तय कर लें और हर दिन उसका नियमित रूप से पालन करें. अगर आप इस तरह की स्ट्रेटेजी अपनाएंगे तो यूपीएससी में जल्दी सफलता प्राप्त कर सकते हैं. 

यहां देखें सर्जना यादव का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू 

अन्य कैंडिडेट्स को सर्जना की सलाह
सर्जना का मानना है कि आप यूपीएससी की तैयारी के दौरान छोटे-छोटे नोट्स जरूर बनाएं. इससे आप कम समय में पूरे सिलेबस का रिवीजन कर पाएंगे. इसके अलावा आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करना भी बहुत जरूरी होता है. आप मॉक टेस्ट पेपर देकर अपनी तैयारी का विश्लेषण करें और गलतियों को सुधार कर तैयारी बेहतर करें. अगर आप इस तरह स्टडी करेंगे तो आप निश्चित रूप से सफल हो सकते हैं. 

यह भी पढ़ेंः IAS Success Story: गोपाल कृष्ण ने ऐसे तय किया मेडिकल ऑफिसर से लेकर यूपीएससी टॉपर तक का सफर, बेहद प्रेरणादायक है कहानी

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *