आरबीआई गवर्नर कोरोना वायरस से संक्रमित, आइसोलेशन में भी करते रहेंगे काम

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikana Das) ने रविवार को कहा कि डॉक्टरी जांच में वह कोरोना वायरस (Covid-19 Viras) से संक्रमित पाये गये हैं. उन्होंने कहा कि वह अलग रहकर काम करते रहेंगे तथा रिजर्व बैंक (Reserve Bank) का कार्य सामान्य तरीके से जारी रहेगा.

लक्षण नहीं: शक्तिकांत दास
गवर्नर ने कहा कि वह खुद को दूसरों से पृथक रखते हुए अपने कार्यालय का काम कर रहे हैं. दास ने कहा कि ऊपर से उन्हें कोविड-19 (Covid-19) का लक्षण नहीं लग रहा है, लेकिन उन्होंने उन सभी लोगों को सावधान कर दिया है, जिनसे उनकी हाल के दिनों में मुलाकातें हुई हैं.

ट्विटर पर दी सूचना
दास ने ट्वीट किया, ‘जांच में मैं कोविड-19 संक्रमित पाया गया हूं. बाहरी लक्षणों से ऐसा लगता नहीं है. बहुत ठीक-ठाक महसूस कर रहा हूं. उन लोगों को सजग कर दिया है, ​जो हाल में मेरे नजदीक आए थे. लोगों से अलग रह कर काम जारी रखूंगा. मैं सभी डिप्टी गवर्नरों और अन्य अधिकारियों से वीसी (वीडिया काफ्रेंस) व फोन के जरिए संपर्क में हूं.’ रिजर्व बैंक में चार डिप्टी गवर्नर ‘बीपी कानूनगो, एमके जैन, एमडी पात्रा और एम राजेश्वर राव’ हैं.

अपारंपरिक नीतियों पर चलने से हिचकते नहीं
दास (63) अर्थव्यवस्था और वित्तीय बाजार को अच्छी स्थिति में बनाये रखने के लिये लॉकडाउन व इसके बाद की अवधि में खासा सक्रिय रहे हैं. उन्होंने कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित अर्थव्यवस्था (Economy) को सहारा देने के लिये पारंपरिक मौद्रिक नीतियों के साथ ही अपारंपरिक नीतियों का भी सहारा लिया था.

उबर रही है देश की अर्थव्यवस्था: दास
दास ने पिछले सप्ताह कहा था कि केंद्रीय बैंक और सरकार की उदार मौद्रिक व आर्थिक नीतियों के चलते देश आर्थिक रूप से उबरने की दहलीज पर खड़ा है. उन्होंने शुक्रवार को ही वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड की 585वीं बैठक की अध्यक्षता की थी. उक्त बैठक में आर्थिक स्थिति और अन्य चुनौतियों पर चर्चा की गयी थी.





Source link

Business